'अखिलेश' की 'गधे' से तो "डिंपल" दे रही "मोदी" को टक्कर

एनएनआई इलाहाबाद:- इस बार कौन सा राजनीतिक दल होली खेलेगा यह तो 11 मार्च के बाद ही पता चलेगा, लेकिन बाजारों में होली की रौनक दिखने लगी है और व्यापारी भी व्यापार करने के लिए चुनावी तरकीबे आजमा रहे हैं। चुनावी रैली से लेकर बयानबाजी और भाषणबाजी में जितने नेताओं की लड़ाई अभी तक चर्चा में रही, अब वो होली के त्यौहार पर भी घर-घर भिड़ेंगे। पिचकारी से लेकर रंग गुब्बारे, टोपी, अबीर और तक सियासत के बड़े खिलाड़ियों के नाम से बाजार में आ चुका है।



आते ही बाजार में छा गई डिंपल पिचकारी

-पिछली तीन होली पर बाजार में अकेले राज कर रही मोदी पिचकारी को इस बार कड़ी टक्कर मिल रही है। 
-बाजारों में 'डिंपल' पिचकारी उतर चुकी है और इसका काफी क्रेज देखने को मिल रहा है। 
-सबसे बड़ी बात यही है कि 'डिंपल' पिचकारी पहली बार बाजार में आई और आते ही छा गई है। 
-'मोदी' पिचकारी को होली पर सबसे ज्यादा 'डिंपल पिचकारी' से ही खतरा है। 
-डिंपल के साथ अखिलेश पिचकारी, राहुल पिचकारी और प्रियंका पिचकारी भी बाजार में है।
-इसके साथ ही इस रेस में 'गधा' भी पीछे नहीं है, होली के पिचकारी बाजार में उसने भी अपनी पैठ बना ली है।

सबसे महंगी मोदी पिचकारी

-बाजार में हर बार की तरह इस बार भी मोदी पिचकारी ही सबसे महंगी है। 
-स्टील और पीतल वाल्व में बनकर आई मोदी पिचकारी की कीमत 300 रुपए है। 
-दुकानदार ने हंसते हुए बताता कि इसकी खासियत ये है कि 'ये बहुत दूर तक रंग फेंकती है'। 
-हालांकि अभी बाजार लगना शुरू ही हुआ है। 
-पांच तारीख के बाद हजार रुपए से ज्यादा कीमत तक की पिचकारी भी बाजार में आ जाएगी।

क्रिकेटर्स से लेकर फिल्म स्टार भी हैं बाजार में

-दुकानदार अभी रौनक बिखेरने की तैयारी कर रहे हैं,
-लेकिन त्यौहार नजदीक आते ही ढेरों नामचीन लोगों की दस्तक बाजार में रंग और खिलौनों के रूप में नजर आएगी। 
-'धोनी' गुलाल, 'कन्हैया' अबीर, 'युवराज' गुब्बारा समेत कई क्रिकेटर्स के नाम पर भी होली के रंग और खिलौने आए हैं। 
-जबकि बॉलीवुड स्टार्स में सलमान और शाहरुख सबसे ज्यादा नजर आने वाले हैं।

प्लास्टिक की पिचकारी की खरीद ज्यादा होने के आसार

-बाजार में अभी 50 से 300 रुपए तक की पिचकारी ज्यादा आई है। 
-वहीं प्लास्टिक पिचकारी की खरीद ज्यादा होने के आसार हैं। 
-ज्यादा पानी स्टोर करने वाली टैंक और बंदूक स्टाइल की पिचकारी भी दो दिनों में बाजार में उपलब्ध होगी। 
-खास बात ये है कि ये पिचकारियां भी चुनावी रंग में रंगीन रहेंगी।