बैंक में हुई पांच लाख की चोरी में पुलिस खाली हाथ

एनएनआई
विशाल अग्रवाल (फैजाबाद) : स्थानीय बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा में तिजोरी काट कर साढ़े पांच लाख की रकम पार करने के मामले में पुलिस महीने भर बाद भी खाली हाथ है। सीसीटीवी फुटेज से मामले के खुलासे में लगी पुलिस, स्वाट व एसटीएफ टीम चोरों तक पहुंचने के लिए सर्विलांस का सहारा ले रही है। एक टीम पुन: पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में इस तरह के अपराधियों को टटोलने के लिए भेजी गयी है ।

गत 25 मार्च की रात बॉब की मयाबाजार शाखा में भवन के पीछे लगे एग्जास्ट फैन के रास्ते अन्दर घुसे चोरों ने तिजोरी में रखी पांच लाख पांच हजार छ: सौ इकहत्तर रुपये की नकदी पार कर दी थी । चोरों ने स्ट्रांग रूम के दरवाजे व तिजोरी को गैस कटर से काट कर घटना को अंजाम दिया था। घटना की जानकारी 26 मार्च को देर शाम प्रकाश में आयी जब पुलिस को एक ग्रामीण ने खेत में गैस सिलेंडर पड़ा होने की सूचना दी ।

बैंक में चोरी की बात सामने आने पर ही पुलिस के होश उड़ गये। बैंक प्रबंधन को जब इसकी सूचना मिली तो उसके भी पैरों तले से जमीन खिसक गयी। मामले की गंभीरता देखते हुए घटना के अनावरण के लिए एसटीएफ को भी लगाया गया। टीम सीसीटीवी फुटेज की ¨प्रट आउट, सीडी, बैंककर्मियों की कॉल डिटेल लेकर सर्विलांस के सहारे घटना का तार जोड़ने में लगी है। कानपुर, हाथरस व उन्नाव आदि शहरों की खाक छानने के बाद भी पुलिस अभी घटना के अनावरण की दिशा में अंधेरे में तीर चला रही है। बैंक में घुसे चोरों के चेहरे पर नकाब होने के कारण व ¨फगर ¨प्रट का न मिलना टीम के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है। नवागत थानाध्यक्ष केके गुप्ता ने बताया कि पुलिस पूरी मुश्तैदी से बैंक चोरी के आरोपियों की तलाश की जा रही है। सफलता के पूरे आसार नजर आ रहे हैं।

प्रेस रिपोर्टर - विशाल अग्रवाल
एनएनआई
फैज़ाबाद
8090000703