पलायन प्रकरण पर बोले बालियान- हिंदू ही नहीं मुस्लिमों का भी हुआ पलायन

 

 भाजपा और संघ ने कैराना को बेशक हिंदू धर्म से जोड़कर मामले को तूल देने का प्रयास किया है। मगर केंद्र सरकार कैराना की किरकिरी से बचना चाह रही है। यही वजह है कि सरकार की ओर से कैराना मामले पर फूंक-फूंक कर बयानबाजी हो रही है।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने मामले पर सधी बयानबाजी की है। तो केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री संजीव बालियान ने कैराना मामले को धर्म से जोड़कर न देखने की अपील की है। बालियान ने कहा है कि कैराना से हिंदू ही नहीं मुस्लिमों का भी पलायन हुआ है। उन्होंने कहा कि ये बात वे कैराना गए पार्टी सांसदों के रिपोर्ट के आधार पर कह रहे हैं। 

बालियान ने कहा कि कैराना से पलायन का मामला पूरी तरह से प्रदेश की खराब कानून व्यवस्था के वजह से है। उन्होंने कहा कि जेल से भी लोग कैराना में रंगदारी वसूल रहे हैं। कानून व्यवस्था के वजह से पलायन का मामला महज कैराना तक ही सीमित नहीं है। बल्कि यूपी के कई शहर प्रभावित हैं।

दरअसल बालियान का बयान संघ प्रमुख के बयान के एक दिन बाद आया है। उनके बयान को सरकार की ओर से ड्रैमेज कंट्रोल के रूप में देखा जा रहा है।

सरकार के पक्ष को वजन देते हुए बालियान ने कहा कि सांसद हुकुम सिंह भी इस मामले को कानून व्यवस्था का  मामला बता चुके हैं। तो विधायक संगीत सोम की पदयात्रा के सवाल पर उन्होंने  कहा है कि इस मामले में प्रदेश अध्यक्ष पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि सोम  की पदयात्रा पार्टी की नहीं बल्कि उनकी निजी थी।

जबकि रविवार को भागवत ने अपरोक्ष रूप से कैराना के मुद्दे को उठाते हुए कहा था कि हिन्दुओं का पलायन रोकना सरकार की जिम्मेदारी है। पलायन की खबरों को दु:खदायी करार देते हुए उन्होंने कहा कि बांग्लादेश, पाकिस्तान नहीं, भारत में भी हिन्दुओं का पलायन हो रहा है।