बयान दर्ज करने के बहाने सीओ के पेशकार ने महिला से की अश्लील हरकत फिर मांगी माफी ऑडियो वायरल

बिजनौरः योगी सरकार में भी महिलाओं के प्रति पुलिस के रवैये में कोई बदलाव नहीं आया है। पुलिस द्वारा महिलाओं पर अश्लील टिप्पणी और हरकत की घटनाएं सामने आ रही है। ऐसा ही एक मामला बिजनौर में सामने आया है।

नजीबाबाद सीओ आफिस में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला एक मामला सामने आया है। थाने के पेशकार ने बलात्कार की पीड़ित महिला के साथ अश्लील हरकत करते हुए छेड़छाड़ की है । पीड़ित महिला पिछले पांच महीने से इंसाफ के लिए अधिकारियों के चक्कर काट रही हैं । महिला का आरोप है कि पड़ोस के ही दो युवक तालिब और सोनू ने पति की गैरमौजूदगी का फायदा उठाते हुए उसके साथ बलात्कार किया। शिकायत के बाद भी जब थाने में रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई तो डीआईजी के दरबार मे गुहार लगाई। इसके बाद मुकदमा कायम हुआ ।

महिला ने आरोप लगाया कि पांच महीने बाद भी बलात्कार के आरोपी खुलेआम घूमते हुए उसे जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। इस मामले की शिकायत जब उसने सीओ नजीबाबाद के दरबार में लगाई तो सीओ के पेशकार सोमसिंह ने उसे रविवार को अपने बयान दर्ज कराने के बहाने कार्यालय में बुलाया और साथ आये बहनोई को बाहर बैठाकर अन्दर बयान कराने के बहाने अश्लील हरकत करने लगे। पेशकार ने छेडछाड भी की। घर जाकर महिला ने अपने पति को आपबीती बताई तो पति ने नजीबाबाद में मुकदमा दर्ज कराया ।

इस मामले मे सोशल मीडिया पर एक आडियो वायरल हो रहा है जिसमे सीओ आफिस का पेशकार सोमसिंह महिला से माफी मांगते हुए आगे से ऐसी हरकत न करने के लिए कह रहा है । इतना ही नहीं दरोगा पर कार्यवाही न करने का आरोप लगाते हुए फाईल ट्रांसफर करने का आश्वासन देते हुए मामले को दबाने के लिए गुजारिश करते हुए सुना जा सकता है।

वहीं सीओ आफिस के कर्मचारी पेशकार के बचाव में महिला के ही चरित्र पर ऊंगलियां उठा रहे हैं।