क्या कश्मीर समस्या का ये शख्स कर देगा समाधान, केंद्र ने भेजा श्रीनगर

नई दिल्ली. कश्मीर समस्या पर वहां के लोगों से बातचीत के लिए केंद्र सरकार ने बड़ी पहल की है। केंद्र सरकार ने एक रिप्रेजेंटेटिव की नियुक्ति की है। वे सोमवार को श्रीनगर पहुंच जाएंगे। बताया जा रहा है कि पूर्व आईपीएस अफसर रहे दिनेश्वर शर्मा को ये जिम्मेदारी दी गई है।

 

इनका क्या है कहना

- मीडिया से बातचीत के दौरान शर्मा ने कहा है कि कश्मीर में काफी समस्याएं हैं।

- इसके लिए वहां के लोगों से बातचीत की जाएगी।

- लेकिन, उनके पास कोई जादू की छड़ी नहीं है।

- जिससे, इस समस्या का निदान तुरंत हो जाएगा।

- दिनेश्वर शर्मा को तेज-तर्रार अफसर भी माना जाता है।

- केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह कह चुके हैं कि वे किसी राजनीतिक दल से जुड़े नहीं है।

 

कौन हैं दिनेश्वर शर्मा 

- शर्मा 1979 बैच के आईपीएस हैं। वे इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) चीफ रह चुके हैं।

- वे मणिपुर में भी अलगाववादी गुटों से बातचीत कर चुके हैं। 

- केरल कैडर के शर्मा की कश्मीर घाटी में पहली बार पोस्टिंग मई 1992 में हुई थी।

- वे इंटेलिजेंस ब्यूरो हेडक्वार्टर्स, नई दिल्ली से एक साल की ट्रेनिंग लेने के बाद यहां आए थे। 

- उस वक्त शर्मा 36 साल के थे। वे घाटी में 1992 से 1994 तक असिस्टेंट डायरेक्टर रहे। 

- हालांकि, बाद में 2014 से 2016 तक आईबी के चीफ रहे।