प्रद्युम्न मर्डर केस:11वीं के छात्र की गिरफ्तारी के बाद बस कडंक्टर के परिजनों ने लिया ये फैसला

गुरुग्राम. रेयान स्कूल में सात साल के मासूम प्रद्युम्न की हत्या के मामले में पहले से गिरफ्तार बस कंडक्टर अशोक के परिजनों ने पुलिस अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज कराने का फैसला लिया है। सीबीआई ने इस मामले में 11वीं कक्षा के छात्र को गिरफ्तार किया है। इसके बाद परिजनों ने अशोक को न्याय दिलाने के लिए यह फैसला लिया है। परिजनों का कहना है कि वे शुरुआत से ही पुलिस से कह रहे हैं कि उनका बेटा बेकसुर है। मगर पुलिस अशोक को टॉर्चर कर उससे गुनाह कबूल कराती रही।  

परिजनों ने लगाए ये आरोप 

-अशोक के परिजनों का आरोप है कि इन पुलिस अधिकारियों ने अशोक को नशे की डोज दी है। 

-उन्होंने कहा कि पुलिस लगातार अशोक को अपना जुर्म कबूलने के लिए टॉर्चर करती रही। 

-परिजनों का कहना है कि अशोक को पुलिस ने बेवजह फंसाया है और जो गुनाह उसने किया ही नहीं उसकी सजा वह बेवजह भुगत रहा है। 

 

अशोक को न्याय दिलाने के लिए गांव वालों से मांगी आर्थिक मदद

-अशोक के पिता अमीरचंद का कहना है कि परिवार ने आरोपी पुलिस वालों के खिलाफ केस दर्ज करने के लिए गांव वालों से आर्थिक मदद मांगी गई है।

-उन्होंने कहा कि पूरा गांव उनके परिवार के साथ है और न्याय दिलाना चाहता है। 

-बता दें कि जब पुलिस ने प्रद्युम्न की हत्या के आरोप में अशोक का गिरफ्तार किया था। तो गांव वाले अशोक के परिवार से काफी नाराज थे और उन्होंने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए परिवार का हुक्का पानी बंद कर दिया था। लेकिन जब सीबीआई ने इस मामले का खुलासा किया है तो गांव के लोग अशोक को न्याय दिलाना चाहते हैं।