पद्मावती को लेकर साक्षी महाराज ने कहा- 'फिल्म इंडस्ट्री के लोग पैसों के लिए...'

नई दिल्ली. बीजेपी सांसद साक्षी महाराज अपने विवादित बयानों को लेकर हमेशा चर्चा में बने रहते हैं। हाल ही में उन्होंने संजय लीला भंसाली की मोस्ट अवेटेड फिल्म 'पद्मावती' को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा 'फिल्म इंडस्ट्री को अस्मिता और राष्ट्र से कोई लेना-देना नहीं है। उन्हें सिर्फ पैसा चाहिए। वह इसके लिए नंगे होने के साथ-साथ कुछ भी कर सकते हैं।' बता दें कि ये फिल्म 1 दिसंबर को सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है। इस फिल्म को लेकर लगातार विवाद जारी है। फिल्म के विवाद को खत्म करने के लिए संजय लीला भंसाली ने फेसबुक पेज के माध्यम से लोगों को 'पद्मावती' के बारे में बताते हुए कहा था कि यह फिल्म बहुत ईमानदारी से, जिम्मेदारी से, मेहनत से बनाई गई है।

-मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 'पद्मावती' फिल्म को लेकर जब बीजेपी सांसद साक्षी महाराज से बात की गई तो उन्होंने कहा कि इतिहास के साथ छेड़छाड़ बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

-उन्होंने कहा कि जिस तरह पद्मावती, महारानी, मां, हिंदू और किसानों का मजाक बनाया जा रहा है, सरकार और प्रशासन को पता होना चाहिए कि यह गलत हो रहा है और फिल्म पद्मावती को पूरी तरह बैन किया जाना चाहिए। 

-वहीं जब उनसे पूछा गया कि फिल्म इंडस्ट्री इसकी आलोचना कर रही है तो साक्षी महाराज ने कहा कि ''फिल्म इंडस्ट्री को अस्मिता और राष्ट्र से कोई लेना-देना नहीं है। उन्हें सिर्फ पैसा चाहिए। वह इसके लिए नंगे होने के साथ-साथ कुछ भी कर सकते हैं।'

क्या कहा था संजय लीला भंसाली ने 

-दरअसल, 'पद्मावती' फिल्म के फेसबुक पेज पर संजय लीला भंसाली ने एक वीडियो पोस्ट की है। 

-इस वीडियो में भंसाली ने कहा -'नमस्कार मैं संजय लीला भंसाली, इस वीडियो के माध्यस से आपसे कुछ कहना चाहता हूं। मैंने यह फिल्म पद्मावती ....बहुत ईमानदारी से, जिम्मेदारी से, मेहनत से बनाई है। 

-उन्होंने आगे कहा - 'मैं रानी पद्मावती की कहानी से हमेशा से प्रभावित रहा हूं और यह फिल्म.. उनकी वीरता, उनके आत्म बलिदान को नमन करती है। ...पर कुछ अफवाहों की वजह से यह फिल्म विवादों का मुद्दा बन चुकी है।''

-संजय लीला भंसाली ने कहा - 'अफवाह यह है कि फिल्म में रानी पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच कोई ड्रीम सीक्वेंस दर्शाया गया है। मैंने इस बात को पहले ही नकारा है। लिखित प्रमाण भी दिया है इस बात का पहले और आज इस वीडियो के माध्यम से मैं यह फिर से दोहरा रहा हूं कि हमारी फिल्म में ऐसा कोई सीन नहीं है जो किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाए।, जज्मबातों को तकलीफ दें, हमने इस फिल्म को बहुत जिम्मेदारी से बनाया है, राजपुत मान और मृयादा का ध्यान रखा है और एक बार फिर से यह दोहरा रहा हूं कि हमारी फिल्म में ऐसा कोई सीन नहीं है जो किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाए''

-इसके बाद उन्होंने हाथ जोड़कर सभी का धन्यवाद किया।