मोबाइल की लाइट में पढ़ा गया अयोध्या नगर निगम बोर्ड बैठक में प्रस्ताव, जनरेटर तक की व्यवस्था नहीं थी

अयोध्या: यहां नगर निगम की बैठक अंधेरे में संपन्न हुई। मोबाइल की लाइट में अयोध्या नगर निगम के प्रस्ताव पेश किए गए। यहीं नहीं प्रस्ताव मोबाइल की लाइट में पढ़े गए। अव्यवस्थाओं के बीच अयोध्या नगर निगम बोर्ड की दूसरी बैठक सम्पन्न हुई, जिसमें 80 करोड़ का बजट पेश किया गया। बजट में 16 लाख रुपए के फायदे में अयोध्या नगर निगम है।

मंडलायुक्त कार्यालय के गांधी सभागार में अयोध्या नगर निगम की दूसरी बैठक अव्यवस्थाओं के बीच संपन्न हुई।

बोर्ड की बैठक शुरू होते ही आंधी-पानी आने के बाद सभागार की बिजली चली गई जिसके बाद अंधेरे में ही सभापति को प्रस्ताव पढ़ना पड़ा। सभापति ने मोबाइल की लाइट में देख देख कर प्रस्ताव के पढ़े। 

गांधी सभागार में जनरेटर की भी व्यवस्था नहीं थी जिसके कारण बैठक केवल डेढ़ घंटे ही चली। मोबाइल की लाइट में बोर्ड की बैठक में 80 करोड़ का बजट पेश किया गया जिसमें सभापति ने 16 लाख के रुपए के फायदे का बजट बताया।

दरअसल अयोध्या नगर निगम के पास बैठक के लिए कोई व्यवस्था नहीं है जिसके चलते बोर्ड की बैठक मंडलायुक्त कार्यालय के गांधी सभागार में संपन्न कराई जा रही है।