लखनऊ (NNI Live):- कानपुर के बिकरू कांड में ​एनकाउंटर में मारे गए दुर्दांत अपराधी विकास दुबे के एक और साथी को यूपी एसटीएफ ने ​रविवार देर रात को गिरफ्तार किया है। उस पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित ​था।

एसटीएफ के पुलिस महानिरीक्षक अमिताभ यश ने देर रात को यह जानकारी देते हुए बताया कि दुर्दांत अपराधी विकास दुबे के गुर्गों को पकड़ने के लिए एसटीएफ और कानपुर पुलिस लगतार ​दबिश दे रही है। इसी कड़ी में देर रात को एसटीएफ इंस्पेक्टर शैलेंद्र सिंह की टीम ने विकास के एक और गुर्गे 50 हजार के इनामी बदमाश चौबेपुर निवासी राम सिंह यादव को अकबरपुर से दबोचा है।

 

आईजी ने बताया कि पकड़ा गया इनामी बदमाश विकास दुबे के शूटरों में एक था। वारदात के बाद से ही वह फरार चल रहा था और अकबरपुर में एक किराये के मकान में रहा था। अब यूपी एसटीएफ की टीम राम सिंह को एक एकांत जगह पर रखकर उसके साथी और मददगारों के बारे में पूछताछ कर रही हैं।

उल्लेखनीय है​ कि कानपुर के विकरू गांव में सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। इस मामले में शामिल मुख्य आरोपित विकास दुबे समेत उसके पांच साथी मुठभेड़ में मारे जा चुके है जबकि 17 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है।