मुंबई (NNI Live) :- फिल्मों में सहायक भूमिका के किरदार में नजर आने वाले अभिनेता शरत सक्सेना कल यानी 17 अगस्त को 70 साल के हो जायेंगे।17 अगस्त 1950 को मध्य प्रदेश के सतना जिले में जन्मे शरत सक्सेना ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा भोपाल से पूरी की। इसके बाद उन्होंने जबलपुर इंजिनयरिंग कॉलेज से अपनी इंजिनयरिंग की पढ़ाई पूरी की, लेकिन इंजिनयरिंग की पढ़ाई करने के बाद भी शरत को इंजिनयरिंग नहीं भाई, वह अभिनेता बनना चाहते थे। यही कारण था कि अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद शरत साल 1972 में अपने सपने को पूरा करने के उद्देश्य से मुंबई आ गए। इसके बाद शुरू हुआ अपने सपने को पूरा करने के लिए शरत के संघर्षों का दौर। लेकिन शरत ने हार नहीं मानी फलस्वरूप शरत की मेहनत रंग लाने लगी।

साल 1974 में शरत को अमिताभ बच्चन, मौसमी चटर्जी,प्रेम चोपड़ा अभिनीत फिल्म ‘बेनाम’ में अभिनय करने का मौका मिला,जिससे शरत के मन में अपने सपने के पूरे होने की उम्मीद जगी। यह शरत की पहली रिलीज फिल्म थी। पर्दे पर उनके अभिनय को दर्शकों ने काफी पसंद किया और इसके बाद उन्हें हिंदी के साथ तेलुगु, मलयालम, तमिल और पंजाबी फिल्मों में भी अभिनय करने के ऑफर मिलने लगे। साल 1987 में आई श्रीदेवी और अनिल कपूर की मुख्य भूमिका वाली फिल्म ‘मिस्टर इंडिया’ में डागा के किरदार में शरत के अभिनय को दर्शकों की खूब वाह वाही मिली।

शुरुआत में शरत ज्यादातर फिल्मों में विलेन की भूमिका में ही नजर आये और दर्शकों ने पर्दे पर उन्हें इस रूप में काफी पसंद भी किया ,लेकिन धीरे-धीरे बाद में शरत फिल्मों में विलेन के साथ-साथ सहायक भूमिका के रूप में भी नजर आये और उन्हें काफी सराहना भी मिली। शरत की प्रमुख फिल्मों में काला पत्थर, शक्ति, आखिरी अदालत, शहंशाह, थानेदार, विरोधी, त्रिदेव, खिलाडी, घायल, गुलाम, फना ,बागबान, कृष, रेडी,बॉडीगार्ड,बजरंगी भाईजान, दबंग 3 आदि शामिल हैं।अपने अभिनय से दर्शकों के दिलों में खास जगह बनाने वाले शरत सक्सेना जल्द ही मिलन लुथरिया निर्देशित फिल्म ‘तड़प’ में नजर आएंगे।