नई दिल्ली (NNI Live) :- वाराणसी के डोम राजा जगदीश चौधरी के निधन पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दु:ख जताया है। जगदीश चौधरी पीएम मोदी के प्रस्तावक बनने के बाद सुर्खियों में आए थे।

पीएम मोदी ने ट्वीट के माध्यम से कहा है कि जगदीश चौधरी काशी की संस्कृति में रचे-बसे थे और वहां की सनातन परंपरा के संवाहक रहे। उन्होंने जीवनपर्यंत सामाजिक समरसता के लिए काम किया। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे और परिजनों को इस पीड़ा को सहने की शक्ति दे।

कौन थे डोम राजा जगदीश चौधरी:

लोकसभा चुनाव में नामंकन के दौरान पीएम मोदी के चार प्रस्तावकों में से एक थे जगदीश चौधरी। काशी के हरिश्चंद्र और मणिकर्णिका घाट में करीब 500 से 600 डोम रहते हैं। दोनों घाटों पर अंतिम संस्कार की जिम्मेदारी डोम समाज के पास है। काशी के इस प्रमुख जिम्मेदारी को निभाने के कारण इन्हें डोम राजा कहा जाता है।