लखनऊ (NNI Live) :- विपक्षी दल बढ़ती बेरोजगारी को मुद्दा बनाते हुए भाजपा को घेरने में जुटे हैं। इसी कड़ी में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लोगों से आज रात 9 बजे 9 मिनट के लिए घरों की बिजली बंद करने की अपील की है।

अखिलेश ने बुधवार को युवाओं का आह्वान करते हुए ट्वीट किया, ‘मुट्ठियां जब बंध जाती हैं नवजवानों की, नींद उड़ जाती है ‘जुल्मी हुक्मरानों’ की। उन्होंने कहा​ कि आइए युवाओं व उनके परिवार की बेरोजगारी-बेकारी के इस अंधेरे में हम आज रात 9 बजे, 9 मिनट के लिए बत्तियां बुझाकर क्रांति की मशाल जलाएं, उनकी आवाज में आवाज मिलाएं।’

समाजवादी पार्टी लगातार बेरोजगारी, युवाओं के मुद्दे को लेकर सरकार पर हमलावर बनी हुई है। अखिलेश ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में उत्तर प्रदेश को देश में दूसरा स्थान मिलने पर भी सवाल उठा चुके हैं। उन्होंने अनियोजित लाॅकडाउन और गलत आर्थिक नीतियों की वजह से अर्थव्यवस्था के पटरी से उतरने का आरोप लगाया है। इस वजह से फैक्टरियों के बंद होने, मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर, विनिर्माण, संचार, होटल आदि व्यवसाय पूरी तरह से चौपट होने का आरोप लगाते हुए बेरोजगारी के मुद्दे पर सरकार को घेरा है।

नीट-जेईई परीक्षा के आयोजन को लेकर भी पार्टी ने प्रदेश में प्रदर्शन किया। इससे पहले पार्टी की युवा इकाई बढ़ती बेरोजगारी के विरोध में थाली बजाकर भी प्रदर्शन कर चुकी है। इसमें भाजपा के शासनकाल में प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर होने और रोजगार नहीं मिलने के कारण नवजवानों में निराशा का भाव बढ़ने की बात कही गई। निजीकरण को लेकर भी सरकार पर निशाना साधा गया।

अखिलेश यादव ने कहा है कि युवाओं ने युवा व छात्र विरोधी भाजपा सरकार के खिलाफ जगह-जगह संघर्ष छेड़ दिया है। युवाओं के गुस्से के तूफान से भाजपा के झूठे दावों के तम्बू उखड़ गये हैं। भाजपा के लोग युवा आक्रोश से बचने के लिए मुंह छिपाए बैठे हैं। सपा सरकार से युवाओं, छात्रों, परीक्षार्थियों व अभ्यर्थियों की समस्याओं के समयबद्ध समाधान के लिए ‘यूथ-चार्टर’ जारी करने की भी मांग कर चुकी है।