नई दिल्ली (NNI Live) :- मानसून सत्र के पहले दिन लोकसभा ने देश की एकता, अखंडता की रक्षा में अपना बलिदान देने वाले सशस्त्र और अर्द्धसैनिक बलों के वीर सैनिकों को याद करते हुए नमन किया।

सोमवार को लोकसभा की बैठक शुरू होते ही अध्यक्ष ओम बिरला ने सबसे पहले सदन को पूर्व राष्ट्रपति स्व. प्रणब मुखर्जी, कन्याकुमारी संसदीय क्षेत्र से सांसद एच. वसंत कुमार, विख्यात गायक पं. जसराज तथा दिवंगत पूर्व सांसदों के निधन की सूचना दी। समूचे सदन ने खड़े होकर दो मिनट का मौन रख दिवंगत नेताओं को श्रद्धांजलि दी। तत्पश्चात लोकसभा अध्यक्ष ने देश की एकता, अखंडता की रक्षा में बलिदान देने वाले सशस्त्र बलों, अर्द्धसैनिक बलों के वीर सैनिकों के बलिदान का जिक्र किया।

लोकसभा ने देश की एकता-अखंडता की रक्षा में वीरगति को प्राप्त सशस्त्र सेना, अर्धसैनिक बलों के वीर सैनिकों व पुलिस बल के बहादुर जवानों को भी नमन किया। इस दौरान कर्तव्य पथ पर बलिदान देने वाले कोरोना योद्धा, डॉक्‍टर्स, चिकित्साकर्मियों, सफाइकर्मियों, पुलिसकर्मियों व स्वयंसेवकों का भी स्मरण किया गया।

उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी के दौरान तमाम पुलिसकर्मी, डॉक्टर, स्वास्थ्य कर्मियों ने जान गवां दी। वहीं, गलवान घाटी में चीनी सैनिकों की घुसपैठ को रोकने के दौरान कई भारतीय सैनिकों ने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया।