उज्जैन (NNI Live) :- मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की सख्ती के बाद अब उज्जैन पुलिस भी जहरीली शराब मामले में एक्शन मोड में नजर आ रही है। एसपी मनोज सिंह ने गुरुवार को इस मामले में खाराकुआं टीआई समेत चार पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। वहीं, इस मामले में 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जहरीली शराब मामले में सख्त कार्रवाई के निर्देश देते हुए जांच के लिए एसआईटी के गठन की बात कही थी। इसके बाद उज्जैन पुलिस भी हरकत में आई और एसपी मनोज सिंह ने गुरुवार को लापरवाही बरतने और अधिकारियों को गुमराह करने को लेकर खाराकुआं थाना प्रभारी एमएल मीणा, एसआई निरंजन शर्मा और दो आरक्षकों को निलंबित कर दिया है।

इसके साथ ही पुलिस ने 10 आरोपितों को गिरफ्तार भी किया है। अन्य आरोपित की तलाश में उज्जैन पुलिस की दो टीम अलग-अलग शहरों के लिए रवाना की गई हैं। उज्जैन एसपी मनोज सिंह ने माना है कि 9 मौतों में कुछ की मौत झिंझर पीने से हुई है।

गौरतलब है कि बुधवार को हुई 07 मजदूरों की मौत के बाद गुरुवार सुंबह महाकाल थाना क्षेत्र में झारड़ा निवासी रतन मालवीय का शव नरसिंह घाट और हरदा निवासी राकेश का शव ढाबा रोड से मिला है, जिसके बाद मृतकों की संख्या 09 पर जा पहुंची है।