सतना(NNILive) :- नवरात्र के पहले दिन मैहर स्थित मां शारदा देवी के दरबार में भक्ति का ऐसा रूप देखने को मिला, जिसे देखकर लोगों की रूह कांप जाए।  देवी के दरबार में 50 वर्षीय एक व्यक्ति ने खुद का गला काट लिया। कथित तौर पर यह सब उसने मां को खुश करने के लिए किया। शख्स की हालत गंभीर बताई जा रही है। पहले उसे सतना के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

उप्र के बांदा जिले के बदौसा से एक परिवार नवरात्र पर मां शारदा का दर्शन करने मैहर पहुंचा था। मां के दरबार में मत्था टेकने के बाद पूरा परिवार सीढ़ियों से नीचे लौट रहा था। तभी अचानक 50 वर्षीय राजकुमार वर्मा ने परिवार से अलग होकर चाकू से खुद का गला रेत लिया और बार-बार कहने लगा कि ‘मां को धरती पर आना होगा, मेरे साथ न्याय करना होगा।’  खून से लथपथ शख्स को देखकर मंदिर में हंगामा मच गया। सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और घायल राजकुमार अस्पताल ले गए।

परिजनों ने पुलिस को बताया कि राजकुमार पिछले 12 साल से देवी मां की आराधना कर रहा है। इस बार उन्होंने नवरात्र पर मैहर आने की जिद की तो  परिजन साथ लेकर आए। परिजनों की माने तो घर में किसी तरह का कोई विवाद नहीं है।