ग्वालियर :- बुधवार को कंपू थाने के टीआई केएन त्रिपाठी ने पड़ोस में रहने वाली महिला की मदद करने के लिए थाने गई ई-रिक्शा चालक महिला से ज्यादती करने की कोशिश की। ई-रिक्शा चालक महिला से तीन दिन से फोन पर अश्लील बातें करने वाले टीआई के खिलाफ छेड़छाड़ का केस दर्ज कराया है।

महिला ई-रिक्शा चलाकर अपना परिवार पालती है। इसी दौरान कंपू थाने के टीआई केएन त्रिपाठी ने महिला का नंबर ले लिया। महिला ने नंबर दे दिया। कुछ ही देर बाद टीआई कंपू ने महिला को कॉल कर बात की। महिला ने उस दिन इसे नजरअंदाज किया। इसके बाद 19 अक्टूबर को फिर वॉट्स एप पर मैसेज आए।

महिला को टीआई कंपू मिलने के लिए थाने बुलाने लगे। बुधवार को सुबह से टीआई कंपू ने वॉट्स एप कॉल किया। महिला को कुछ असहज लगा तो महिला बाल विकास विभाग की काउंसलर से संपर्क किया। महिला काउंसलर उसके पास पहुंची और जब वॉट्स एप चैट देखी तो उन्हें कुछ संदेह हुआ। महिला काउंसलर के साथ महिला थाने के लिए निकली। वह अकेले टीआई के चेंबर पर पहुंची। वहीं टीआई कंपू ने महिला के साथ ज्यादती की।

महिला किसी तरह टीआई के चेंबर से बाहर निकली और बाहर खड़ी महिला बाल विकास विभाग की काउंसलर को अपने मोबाइल फोन में रिकार्ड टीआई की हरकत के बारे में बताया। एसपी अमित सांघी से सबूतों के साथ शिकायत की गई। एसपी ने देर रात कंपू टीआई केएन त्रिपाठी के खिलाफ महिला थाने में छेड़खानी का मामला दर्ज कराने के साथ निलंबित कर दिया।

एसपी के मुताबिक महिला ने वॉट्स एप चैट के स्क्रीन शॉट और कॉल लॉग का स्क्रीन शॉट शेयर किया है। जिसमें करीब चार घंटे में टीआई के 30 से ज्यादा मिस्ड कॉल का रिकॉर्ड दिख रहे है। महिला ने ऑडियो रिकॉर्डिंग भी दी हैं, जिनमें टीआई की बातचीत संदिग्ध है।
बता दें कि की यह पहला केस नही टीआई के खिलाफ इससे पहले भी टीआई केएन त्रिपाठी का एक ऑडियो उस समय वायरल हुआ था, जब उनकी पोस्टिंग बानमोर थाने में थी। उस समय भी एक महिला से अश्लील बात की थी। घाटीगांव में पदस्थ रहने के दौरान किसी से फोन पर रिश्वत मांगने की ऑडियो वायरल हुआ था।