मध्य प्रदेश (NNILive) :- मप्र में विधानसभा की 28 सीटों के लिए हो रहे उपचुनाव में उतरे प्रत्याशियों के आर्थिक हालात की बात करें तो कुल 355 उम्मीदवारों में से 80 के पास करोड़ रुपए की संपत्ति है। हालांकि, 6 ऐसे भी उम्मीदवार हैं जो आईटीआर नहीं भरते। वहीं, 48 ऐसे प्रत्याशी चुनावी मैदान में हैं, जिन्होंने पैनकार्ड की जानकारी चुनाव आयोग को दी है।

6 करोड़पति उम्मीदवार वे हैं, जिनकी संपत्ति 2 करोड़ से लेकर 6.73 करोड़ रुपए तक है। आईटीआर नहीं भरने वालों में भाजपा, कांग्रेस, बसपा और पीपुल्स पार्टी ऑफ इंडिया के एक-एक और दो निर्दलीय उम्मीदवार शामिल हैं।

मध्य प्रदेश इलेक्शन वॉच और एसोएिसशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स द्वारा जारी की गई रिपोर्ट में हुआ है। संयुक्त रूप से चुनाव लड़ने वाले 355 उम्मीदवारों के शपथ पत्रों के आधार पर रिपोर्ट तैयार की है। इसमें बताया गया है कि 80 करोड़पति उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें 40 उम्मीदवार ऐसे हैं, जिनकी आय 5 करोड़ से ज्यादा है।

रिपोर्ट के मुताबिक, उम्मीदवारों को अपने नामांकन के साथ अपनी संपत्ति का ब्यौरा और पैन कार्ड की जानकारी देनी जरूरी है, लेकिन 48 उम्मीदवारों ने अब तक ऐसा नहीं किया है। इस चुनाव में कई उम्मीदवार रिटर्न भरने से मुक्त हैं, क्योंकि उनकी आय इनकम टैक्स के दायरे में नहीं आती है।

मध्य प्रदेश उपचुनाव में इस बार भाजपा के 23 करोड़पति उम्मीदवार मैदान में हैं। इनके अलावा कांग्रेस के 22 और बसपा के 13 उम्मीदवारों के अलावा भी कई करोड़पति उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतरे हैं।