मुजफ्फरनगर(NNILive) :- उत्तर प्रदेश में अपराधीयों और मनचलो को शायद अब कानून का कोई डर नहीं रह गया है। भले ही हाथरस की घटना के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए मिशन महिला शक्ति को प्रभावी रूप से लागू किया हो।  जिसके लिए जनपद मुज़फ्फरनगर में पुलिस और प्रशासन ने मिलकर नवरात्रों में महिला शक्ति का प्रचार प्रसार किया। फिर भी लगता है जनपद अब भी बहु बेटियां सुरक्षित नही है क्योंकि आए  दिन महिलाओ के साथ छेड़छाड़ की घटनाये सामने आ रही है।

ताजा मामला मुज़फ्फरनगर के थाना नई मंडी क्षेत्र का है, जंहा मंगलवार शाम विशेष समुदाय के युवको ने उस समय एक युवती से पहले तो छेड़छाड़ की जिसके बाद उसका सरेआम अपहरण का प्रयास किया गया। बता दें कि युवती अपने भाई के साथ कार से ट्यूशन जा रही थी। युवती के भाई ने आरोपी युवको का विरोध किया तो अपहरणकर्ताओं ने युवती और उसके भाई के साथ मारपीट कर मौके से फरार हो गए। जानकारी के मुताबिक आरोपी युवको ने पहले अपना नाम बदलकर युवती से फेसबुक पर दोस्ती की और जब युवती को युवको की असलियत मालूम हुई। तो युवती ने युवको को फेसबुक पर ब्लॉक कर दिया। पीड़ित युवती की तहरीर पर पुलिस ने तीन युवको के खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है।

घटना थाना नई मंडी कोतवाली क्षेत्र की आदर्श कॉलोनी स्थित भावना पैलेस के निकट का है। जहाँ मंगलवार शाम एक युवती अपने भाई के साथ कार द्वारा घर से ट्यूशन जा रही थी। जैसे ही दोनों बहन भाई भावना पैलेस के सामने पहुंचे तभी तीन युवको ने कार के आगे अपनी कार लगा दी और सरेआम युवती को कार से खींचने का प्रयास करने लगे। बहन को बचाने प्रयास कर रहे भाई ने जब आरोपियों विरोध किया तो तीनो आरोपियों ने युवती के भाई के साथ मारपीट करते हुए मोके से फरार हो गए। इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया और पुलिस भी घटना स्थल पर पहुँच गयी।

पुलिस ने रात्रि में युवती द्वारा दी गयी तहरीर के आधार पर खालापार निवासी अरमान, आरिफ और अजीम के खिलाफ 323 ,504 ,506,354,427 में अभियोग पंजीकृत कर गिरफ्तार कर लिया है। हालाँकि इस पुरे मामले में पीड़ित परिवार कैमरे पर नहीं बोल रहे है। लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक खालापार निवासी युवक अरमान और उसके साथियो ने फेसबुक पर नाम बदलकर पहले युवती से दोस्ती की और जब युवती को युवको की असलियत मालूम पड़ी तो पीड़िता ने युवको को अपने फेसबुक अकाउंट पर ब्लॉक कर दिया। इसी बात से झल्लाये युवको ने युवती के अपहरण करने की कोशिश की।