सहारनपुर(NNILive) :- बीजेपी सरकार में नाम बदलने का परचरण तो चल ही रहा है और अब लगता है यह प्रकरण सहारनपुर में भी चालू हो गया है। सहारनपुर में शैखुल हिंद मौलाना महमूद हसन के नाम से मेडिकल कॉलेज इस समय काफी सुर्खियों में है। बता दें, कि शेखुल हिंद मौलाना महमूद हसन मेडिकल कॉलेज के नाम पर एक बार फिर से राजनीति शुरु हो गई है। भारतीय बौद्ध महासंघ ने मेडिकल कॉलेज का नाम संत शिरोमणि रविदास के नाम पर रखने की मांग की है।

अंबाला रोड पिलखनी में है। शेखुल हिंद मौलाना महमूद उल हसन मेडिकल कॉलेज, सहारनपुर का राजकीय मेडिकल कॉलेज नाम को लेकर शुरू से ही विवादों में रहा है। इस बार भारतीय बौद्ध महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष भंते संघप्रिय राहुल ने मौलाना शेख उल हिन्द महमूद हसन मेडिकल कॉलेज का नाम बदलकर संत शिरोमणि रविदास किये जाने की मांग उठाई है। संघप्रिय राहुल ने पत्रकार वार्ता में कहा कि मेडिकल कॉलेज का नाम शुरू में मान्यवर कांशीराम मेडिकल कॉलेज था।

सपा सरकार आने के बाद जिसका नाम बाद में बदलकर मुस्लिम व्यक्ति के नाम पर कर दिया गया। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इसका नाम बदलकर संत रविदास के नाम पर करने की बात कही। साथ ही दलील भी दी कि सहारनपुर हरिद्वार और आसपास के इलाके में संत रविदास के बहुत संख्या में अनुयायी हैं। उन्होंने कहा कि यदि मेडिकल कॉलेज का नाम नहीं बदला गया तो बौद्ध समाज आंदोलन करेगा । इसकी शुरुआत मैं खुद करूंगा और जबतक नाम नहीं बदला जाएगा मैं खुद धरने पर बैठूंगा। इसके लिए मुख्यमंत्री से भी मिलेंगे।