नई दिल्ली (NNI Live) :- भारत में कोरोना वायरस के मामलों में गिरावत देखने को मिल रही है। बाकी देशों के मुकाबले भारत में कोरोना रिकवरी रेट सबसे ज्यादा है, इन सबके बीच एक और राहत की खबर ये है कि सितंबर महीने के मुकाबले अक्टूबर में 9 लाख कम मरीज मिले है। अक्टूबर से 29 अक्टूबर के बीच कोरोना मरीजों का आंकड़ा 17 लाख कम मरीज मिले है। सिंतबर में ये आंकड़ा 26 लाख रहा था।

हालांकि, बीते दो-तीन दिनों से दिल्ली और केरल के आंकड़े चिंता बढ़ा रहे हैं। यहां पॉजिटिव केस में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। दिल्ली में गुरुवार को रिकॉर्ड 5739 मरीज मिले हैं। एक्टिव केस में 1574 की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। जहां पूरे देश में कोरोना के आंकड़ो को लेकर राहत की सांस ली है तो वहीं दिल्ली और केरल की चिंता बनी हुई है।

वहीं, बात अगर महाराष्ट्र की जाए वहां गुरुवार को राज्य में 5902 लोग संक्रमित मिले थे. इसके साथ ही मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 16 लाख 66 हजार 668 हो गया है. इनमें 1 लाख 27 हजार 603 मरीजों का इलाज चल रहा है, जबकि 14 लाख 94 हजार 809 लोग ठीक हो चुके हैं। कोरोना के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए राज्य सरकार ने एक बार फिर से लॉकडाउन लगा दिया है। महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में 30 नवंबर तक लॉकडाउन बढ़ा दिया है। हालांकि, इसमें ”मिशन बिगेन अगेन” के तहत मिल रही छूट बरकरार रहेगी।

80 लाख के पार कोरोना संक्रमण के मामले
बात अगर पूरे देश की जाए तो स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, गुरुवार को पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 49881 नए मामले सामने आए हैं, जिससे भारत का कुल आंकड़ा बढ़कर 80,40,203 हो गया है. वहीं इस दौरान 517 मौतों से इससे मरने वालों की संख्या 1,20,527 पहुंच गई है। भारत में पिछले 24 घंटे में 7116 की गिरावट के साथ फिलहाल एक्टिव केसों की संख्या 603687 है। अब तक 73,15,989 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। हालांकि, भारत में मृत्यु दर सबसे कम है। अमेरिका में दो लाख तीस हजार से अधिक लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।