मुंबई (NNI Live) :- महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और राकांपा के गठबंधन महाराष्ट्र विकास आघाड़़ी (एमवीए) की सरकार बने अभी साल भर भी नहीं हुआ कि इसके घटक दलों में नाराजगी की बातें सतह पर आ गई हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राज्य के पीडब्ल्यूडी मंत्री अशोक चव्हाण ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर आरोप लगाया है कि वह कांग्रेस शासित नगर निगमों को विकास निधि आवंटित नहीं कर रहे हैं।
राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके अशोक चव्हाण ने शनिवार को परभणि में आयोजित सभा में कहा कि नांदेड़ नगर निगम के विकास के लिए उन्होंने विकास फंड मांगा था। इस संबंध में मुख्यमंत्री उद्धव से तीन बार बात की, लेकिन नांदेड़ नगर निगम के लिए विकास फंड नहीं मिला।

चव्हाण ने कहा कि कांग्रेस राज्य में शिवसेना को साथ लेकर सरकार बनाना नहीं चाहती थी। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने के लिए राजी नहीं हो रही थीं, लेकिन बाद में उन्हें समझाया गया कि भारतीय जनता पार्टी को सत्ता से दूर रखने के लिए शिवसेना को सरकार बनाने के लिए समर्थन देना जरूरी है। इसी वजह से राज्य में शिवसेना को सरकार बनाने के लिए कांग्रेस ने समर्थन दिया, लेकिन सरकार गठन के बाद कांग्रेस के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है।
पीडब्ल्यूडी मंत्री चव्हाण ने कहा कि इस संबंध में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोरात मुख्यमंत्री उद्धव से जल्द ही बात करेंगे। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि सिर्फ विकास फंड को लेकर तीनों दलों में मतभेद है। इसे छोड़ दें तो राज्य में तीनों दलों की सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी।

उल्लेखनीय है कि चव्हाण इससे पहले भी उद्धव ठाकरे के खिलाफ अपनी नाराजगी जता चुके हैं। उन्होंने उद्धव पर कांग्रेस विधायकों के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाया था।