नई दिल्ली (NNI Live) :- सुप्रीम कोर्ट आज मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ की याचिका पर सुनवाई करेगा। कमलनाथ ने मप्र में जारी उपचुनाव के दौरान खुद को कांग्रेस के स्टार प्रचारकों की लिस्ट से हटाने के चुनाव आयोग के आदेश को चुनौती दी है। आयोग ने प्रचार के दौरान उनके विवादित बयानों के चलते यह कार्रवाई की थी।

याचिका में कहा गया है कि किसी व्यक्ति को स्टार प्रचारक के रूप में नामित करना पार्टी का अधिकार है और चुनाव आयोग पार्टी के फैसले में हस्तक्षेप नहीं कर सकता है। चुनाव आयोग का फैसला अभिव्यक्ति के अधिकार का उल्लंघन है। चुनाव आयोग नोटिस देने के बाद फैसला कर सकता है, लेकिन कमलनाथ को कोई नोटिस नहीं दिया गया है।

दरअसल, निर्वाचन आयोग ने कमलनाथ के खिलाफ उनके विवादित बयानों को लेकर कार्रवाई की है। निर्वाचन आयोग ने उन्हें कांगेस के स्टार प्रचारक की सूची से हटा दिया है। कमलनाथ ने कुछ दिनों पहले मध्य प्रदेश सरकार की मंत्री इमरती देवी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। फिलहाल, मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर तीन नवम्बर को चुनाव होना है।