नई दिल्ली (NNI Live) :- सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना पीड़ित होने के चलते होम आइसोलेशन में रखे गए लोगों के घर के बाहर पोस्टर चिपकाए जाने के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए केंद्र को नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने दो हफ्ते के अंदर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया।

याचिका में कहा गया है कि कई राज्य ऐसा कर रहे हैं। यह सम्मान के साथ जीवन और निजता के अधिकार का हनन है। याचिका में कहा गया है कि होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों के घर के बाहर पोस्टर लगाना मरीज की निजता के अधिकार का हनन है। कोरोना संक्रमित मरीजों को इतनी निजता देनी चाहिए कि वो इस बीमारी से शांतिपूर्वक उबर सकें और लोगों की चर्चा का केंद्र बनने से बच सकें। इसके अलावा लोग खुलेआम अपना टेस्ट कराने से बच रहे हैं क्योंकि उन्हें भी अपने सामाजिक बहिष्कार का डर सताता है।