बिहार (NNI Live) :- बिहार में तीसरे चरण के मतदान में अब सिर्फ एक दिन का समय रह गया है। इस बीच सभी नेताओं ने चुनाव प्रचार तेज हो गए है। जहां ज्यादातर नेता आखिरी चरण में वादों की झड़ी लगाने से नहीं चूक रहे हैं। वहीं भाजपा और जदयू ने अब चुनाव जीतने के लिए इमोशनल कार्ड फेंकने शुरू कर दिए हैं। सबसे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि ये विधानसभा चुनाव उनके लिए आखिर चुनाव हैं। वहीं दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बिहार की जनता के नाम चिट्ठी लिखी है और कहा है कि उन्हें बेहतर काम करने के लिए राज्य में नीतीश कुमार की जरूरत है।

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के तीसरे और अंतिम चरण के लिए शनिवार को मतदान होगा। इसके लिए आज शाम पांच बजे प्रचार अभियान थम जाएगा। आखिरी दिन प्रचार करते हुए नीतीश कुमार ने इस चुनाव को अपना अंतिम चुनाव करार दिया है। बता दें कि नीतीश कुमार 2005 से ही बिहार के मुख्यमंत्री हैं। मुख्यमंत्री बनने से पहले वे अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में रेल मंत्री रहे। आज की जनसभा को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने अपने पुराने दिनों को भी याद किया और कहा कि रेल मंत्री रहते हुए भी मैं लोगों की समस्याओं के समाधान के लिए तत्पर रहता था।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब हमें काम करने का मौका मिला, तब हमने कहा था कि न्याय के साथ विकास किया जाएगा. हमने अपना वादा पूरा किया. हमने किसी की भी उपेक्षा नहीं की, सबको साथ ले कर चले, सबका विकास किया. आगे मौका मिला तो राज्य को विकास की नयी ऊंचाइयों तक पहुंचाएंगे.

जनसभा को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार ने अगले पांच साल का खांका भी पेश किया। उन्होंने कहा कि अगले पांच साल में औधोगिक नीति लागू की जाएगी, जिसकी पूरी तैयारी की जा चुकी है। बिहार में औधोगिक नीति लागू होने के बाद बिहार से पलायन समाप्त हो जाएगा। उन्होंने कहा कि बिहार लगातार विकास के पथ पर चल रहा है।