रायपुर (NNI Live) :- प्रतिदिन 132 की औसत  से मिले रहे कोरोना संक्रमितों की संख्या को देखते हुए शासन ने शहरी क्षेत्रों में 7 दिनों का लॉकडाउन घोषित कर दिया है। पिछले 24 घंटों में 168 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। इसके साथ प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 5407 पहुंच गई है। 24 लोगों की इसकी वजह से मृत्यु हो चुकी है, वही 3775 लोग डिस्चार्ज हो चुके हैं। अभी प्रदेश में 1608 एक्टिव मरीज है।

पिछले 24 घंटों में जो नए मरीज मिले हैं उनमें मंत्री के बंगले में कार्यरत दो महिला कर्मी सहित पुलिस मुख्यालय में कार्यरत एक आईपीएस अधिकारी सहित बड़ी संख्या में पुलिस के जवान पाए गए हैं। सूत्रों का दावा है कि इसकी एक बड़ी वजह लापरवाही है। नए मिले मरीजों में रायपुर से 45, सरगुजा से 26, बस्तर से 25, कोरबा से 14, दुर्ग से आठ, बलौदा बाजार एवं कांकेर से 7-7, बेमेतरा से छह, दंतेवाड़ा से 5, बिलासपुर, जांजगीर, कोंडागांव एवं नारायणपुर से 4-4, राजनांदगांव से तीन और गरियाबंद, मुंगेली, बलरामपुर, रायगढ़ से एक-एक तथा कोरिया जिले से मिले 2 रोगी शामिल है। अभी तक दुर्ग जिले में सर्वाधिक 621 मरीज एक्टिव हैं। यहां पर 4 लोगों की मौत हुई है। रायपुर में 621 सक्रिय कोरोना रोगी है और यहां चार लोगों की मौत हो चुकी है। तीसरे नंबर पर बिलासपुर है जहां 160 सक्रिय कोरोना रोगी है और इससे दो लोगों की मौत हो चुकी है। राजनांदगांव जिला में 80 सक्रिय रोगी है और इससे दो लोगों की मौत हो चुकी है।
सरकार द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 22 से 28 जुलाई तक रायपुर और बीरगांव में लॉकडाउन लगाया जा रहा है। बिलासपुर, भिलाई, कांकेर और चिरमिरी में भी लॉक डाउन की घोषणा कलेक्टर ने की है। यहां अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी कामकाज बंद रहेंगे। स्वास्थ्य विभाग के प्रवक्ता डॉक्टर सुभाष पांडे ने कहां है कि कोरोना को लेकर जितना हो सके प्रचार प्रसार किया जाना है।
वहीं स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने कहां है कि प्रदेश सरकार ने समुचित व्यवस्था की हुई है। लोगों को सावधानी बरतनी चाहिए।