धारचूला :- पिथौरागढ़ जनपद के बंगापानी तहसील के धामी गांव के भ्योंला तोक में रविवार रात बादल फटने की घटना हुई है। ठीक एक हफ्ते बाद रात को बारिश यहां फिर कहर बनकर आई है, जिसमें एक घर मलबे में दब गया है। इस आपदा में दो लोग और मवेशी लापता हैं। राजस्व पुलिस और एसडीआरएफ की टीम प्रभावित इलाके के लिए रवाना हो गई है। एसडीआरएफ की सेनानायक तृप्ति भट्ट ने इसकी पुष्टि की है।

रविवार रात भारी वर्षा के कारण गांव के लोगों को इस घटना के बारे में पता नहीं चल पाया। जब सुबह गांव वालों ने देखा तो घर की जगह पर मलबा पसरा हुआ था। सूचना मिलने के बाद जिलाधिकारी वीके जोगदंडे ने रेस्क्यू अभियान के निर्देश दिए हैं।

उधर, यह भी पता चला है कि पिथौरागढ़ के तहसील तेजम के ग्राम गोठी में आज प्रात: एक महिला नाले में मलबा आने से दब गई है। बीती रात धारचूला में 67 मिमी और मुनस्यारी में 65 मिमी बारिश ने तबाही मचाई है।

उल्लेखनीय है एक सप्ताह पहले भी रविवार (19 जुलाई) की रात को जनपद के गैला और टांगा गांवों में बादल फटने की घटनाओं में 14 लोगों की मौत हो गई थी। इनके शव रेस्क्यू टीम ने मलबे से निकाले थे।