बाहुबली 2 मूवी देखकर सध्वी जय श्री ने दिखया भागम भाग

एनएनआई  अहमदाबाद     बहुचर्चित साध्वी जयश्री गिरी बुधवार को पुलिस हिरासत से भाग गई. कुछ माह पहले फिरौती के मामले में उसकी गिरफ्तारी हुई थी. रेड के दौरान उसके आश्रम से बड़ी मात्रा में कैश और शराब मिली थी. इसके बाद से ही इस साध्वी की ऐशो आराम वाली लाइफ स्टाइल चर्चा में थी. पिछले दस दिनों से यह साध्वी पेरोल पर जेल से बाहर थी.

साध्वी के पेरोल पर बाहर आने की वजह हास्पिटल में इलाज कराना था. लेकिन जो तथ्य सामने आए हैं वे चौंकाने वाले हैं. दो महिला पुलिस कर्मी उसके साथ लगातार रहती थीं. इसके अलावा दो अन्य पुलिसकर्मी भी तैनात थे. इन पुलिस कर्मियों से चर्चा करके बुधवार को जयश्री गिरी पहले एक प्राइवेट अस्पताल में गई. वहां से वह अहमदाबाद के एस मॉल में गई. वहां मसाज कराई और फिर फिल्म बाहुबली-2 देखी. इसके बाद वह भाग गई.
पुलिस ने साध्वी के भागने में मदद करने के आरोप में चार पुलिसकर्मी समेत साध्वी के दो वकील को गिरफ्तार कर लिया है। अहमदाबाद क्राइम ब्रांच के डीसीपी द्रीपेन भट्ट ने कहा कि साध्वी की तलाश की जा रही है। साध्वी के मोबाइल पर कई लोगों ने संपर्क किया था। उसके मोबाइल का अंतिम लोकेशन हिमालय मॉल में था। साध्वी को पकड़ने के लिए अहमदाबाद अपराध शाखा की विशेष टीम सहित प्रदेश भर की पुलिस जुट गई है।

साध्वी का अहमदाबाद के झायड्स अस्पताल में उपचार चलने की बात कही जा रही थी लेकिन अस्पताल प्रशासन ने साफ किया कि साध्वी का यहां कोई इलाज नहीं चल रहा है। इसके बाद पुलिस की भूमिका पर सवालिया निशान पैदा हो गया है। बुधवार को हिमालय मॉल के सीसीटीवी कैमरे में साध्वी महिला हेड कांस्टेबल बेलाबेन के साथ दिखाई दे रही है। साध्वी के फरार होने में पुलिसकर्मियों के साथ–साथ दो वकील की भूमिका भी बताई जा रही है। पुलिस ने पुलिसकर्मी महिला हेड कांस्टेबल बेलाबेन, हेड कांस्टेबल हर्षाबेन, सुरेशभाई और जंयति भाई के साथ साध्वी की वकील दर्शना पंडया और दक्ष परमार को गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि साध्वी के फरार होने के समय हेड कांस्टेबल हर्षाबेन सहित तीन अन्य वकील दर्शना पंडया के घर थे।